मुखपृष्ठ

पुरालेख-तिथि-अनुसार -पुरालेख-विषयानुसार -हिंदी-लिंक -हमारे-लेखक -लेखकों से


व्यक्तित्व

अभिव्यक्ति में शुभदा मिश्र की रचनाएँ

कहानियों में
मुक्तिपर्व
नववर्ष शुभ हो

वह मददगार


 

 


शुभदा मिश्र  

जन्म- १ जुलाई १९४८ को डोंगरगढ़, जिला राजनांदगाँव, (छ.ग.), भारत में।
शिक्षा- हिंदी एवं अंग्रेजी साहित्य में एम.ए., रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय, रायपुर

कार्यक्षेत्र-
अध्ययन एवं लेखन के साथ साथ अनेक सामाजिक कार्यों में संलग्न। आरंभिक रचनाऐं सरिता,मुक्ता में प्रकाशित हुईं फिर कादम्बिनी कहानी प्रतियोगिता, सारिका कहानी प्रतियोगिता, प्रेमचंद कहानी प्रतियोगिता आदि में पुरस्कार जीतने के बाद देश की लगभग सभी प्रतिष्ठित पत्र पत्रिकाओं में रचनाऐं ससम्मान प्रकाशित होती रहीं यथा धर्मयुग, साप्ताहिक हिन्दुस्तान, सारिका, कादम्बिनी, आजकल, वागर्थ, कथादेश, कथा बिंब, साहित्य अमृत, इंडिया टुडे, समरलोक, अक्षरा, शुक्रवार, कथन इत्यादि। जनांदगाँव किशोर न्यायालय बोर्ड की मानद सदस्या, २००८ से २०१३ तक तथा -पारिवारिक न्यायालय बोर्ड डोंगरगढ़ की भी मानद सदस्या के रूप में सामाजिक समस्याओं से जुड़ाव और उनके हल के लिये तत्पर।
आकाशवाणी पटना और रायपुर दूरदर्शन के अनेक साहित्यिक सांस्कृतिक कार्यक्रमों में भागीदारी।

प्रकाशित कृतियाँ-
कहानी संग्रह- मंथन, यहीं कहीं होगी संजीवनी, संदेसा इतना कहियो जाय, हैपी न्यू ईयर, अंतिम स्तंभ, बाबुल।
तीन उपन्यासिकाएँ ( उपन्यासिकाओं का संग्रह ) समय प्रकाशन दिल्ली।
एक उपन्यास ”स्वयंसिद्धा“,ब्लू रोज पब्लिशर्स
अनेक रचनाओं का अन्य भाषाओं में अनुवाद।

पुरस्कार एवं सम्मान-
१ स्वातन्त्रयोत्तर श्रेष्ठ बिहारी साहित्यिक सम्मान पुरस्कार-पं. रामनारायण न्यास, पटना द्वारा१९९४-९५ में
२ नगर गौरव पुरस्कार-सॉनेट क्लब डोंगरगढ़ द्वारा,१९९८ में।
३ साहित्य श्री पुरस्कार-नागपुर त्रिंशताब्दि पुस्तक मेला में सर्वश्रेष्ठ कहानी संग्रह ”मंथन“ हेतु, २००१ में।
४ नगर के टॉप टेन पुरस्कार- लॉयन्स इंटरनेशनल द्वारा २००६ में।
५ सप्तपर्णी पुरस्कार- छत्तीसगढ़ साहित्य सम्मेलन द्वारा २०१७ में।
नारी सशक्तिकरण सम्मान, छत्तीसगढ़ राजभाषा आयोग द्वारा श्रेष्ठ साहित्यकार सम्मान, जैसे और भी अनेक सम्मान।

संप्रति- स्वतंत्र लेखन

संपर्क- smdongargarh@gmail.com

1

1
मुखपृष्ठ पुरालेख तिथि अनुसार । पुरालेख विषयानुसार । अपनी प्रतिक्रिया  लिखें / पढ़े
1
1

© सर्वाधिका सुरक्षित
"अभिव्यक्ति" व्यक्तिगत अभिरुचि की अव्यवसायिक साहित्यिक पत्रिका है। इस में प्रकाशित सभी रचनाओं के सर्वाधिकार संबंधित लेखकों अथवा प्रकाशकों के पास सुरक्षित हैं। लेखक अथवा प्रकाशक की लिखित स्वीकृति के बिना इनके किसी भी अंश के पुनर्प्रकाशन की अनुमति नहीं है। यह पत्रिका प्रत्येक
सोमवार को परिवर्धित होती है।