मुखपृष्ठ

पुरालेख-तिथि-अनुसार -पुरालेख-विषयानुसार -हिंदी-लिंक -हमारे-लेखक -लेखकों से


फुलवारी

 

भालू तितली और फूल

>

नेहा लड़की है, छोटी-सी। भालू खिलौना है, बड़ा-सा। भालू नेहा का दोस्त है। नेहा और भालू साथ-साथ रहते हैं।

आज शाम नेहा बगीचे में गई। भालू भी साथ गया।
वहाँ एक फूल था, बड़ा-सा। फूल गुलाबी रंग का था।
नेहा ने फूल को देखा, उसे फूल सुंदर लगा।

ऊपर आसमान था, बड़ा-सा। आसमान का रंग नीला था। नेहा को आसमान सुंदर लगा। आसमान में तितली थी, छोटी-सी। उसके पंखों का रंग लाल था। नेहा को तितली अच्छी लगी।

नीचे घास थी। घास का रंग हरा था। बल्लू और नेहा घास पर बैठे। घास नर्म थी। नेहा को घास अच्छी लगी। बल्लू फूल से बातें करने लगा। लो, नेहा तो बैठे बैठे सो गई !

- पूर्णिमा वर्मन

२० अगस्त २०१२

1

1
मुखपृष्ठ पुरालेख तिथि अनुसार । पुरालेख विषयानुसार । अपनी प्रतिक्रिया  लिखें / पढ़े
1
1

© सर्वाधिका सुरक्षित
"अभिव्यक्ति" व्यक्तिगत अभिरुचि की अव्यवसायिक साहित्यिक पत्रिका है। इस में प्रकाशित सभी रचनाओं के सर्वाधिकार संबंधित लेखकों अथवा प्रकाशकों के पास सुरक्षित हैं। लेखक अथवा प्रकाशक की लिखित स्वीकृति के बिना इनके किसी भी अंश के पुनर्प्रकाशन की अनुमति नहीं है। यह पत्रिका प्रत्येक
सोमवार को परिवर्धित होती है।